My Short Stroy – Chakravyuh

This Story was published in Naya Path, Published by Janvadi Lekhak Sangh.

Advertisements

पतन की पूर्वपीठिका

डैड ने अपनी नवजात बेटी को चूमते हुए कहा,'आहा! यह देखो हमारी न्यू मिस इंडिया।'  मॉम ने इस पर ऐतराज करते हुए कहा,'न्यू मिस इंडिया क्यूं, न्यू मिस वर्ल्ड कहो!' उक्त संवाद किसी विज्ञापन या फिल्म का हिस्सा नहीं है, बल्कि यह वह संवाद है जो सुष्मिता सेन के 'मिस यूनिवर्स' और ऐश्वर्य राय के... Continue Reading →

Vibhav Da Ki Dhadi – a story by Vinod Viplav

  विभव दा की दाढ़ी यह कहानी ‘ विभव दा का अंगूठा’ शीर्षक से 1996 में प्रकाशित कहानी संग्रह से ली गयी है। हालांकि तब से हमारा समाज काफी कुछ बदल गया है और कई नयी प्रवृतियों एवं समस्‍याओं ने जन्‍म ले लिया है, लेकिन समाज का मूल चरित्र काफी हद तक बरकरार है। हिन्‍दूवादी और मुस्ल्मि नेताओं... Continue Reading →

Create a website or blog at WordPress.com

Up ↑